एफपीएम में प्रवेश

महत्वपूर्ण तिथियाँ

भारतीय प्रबंध संस्थान शिलांग वेबसाइट से एफपीएम आवेदन पत्र डाउनलोड करने की तारीख शुरू 16 जनवरी 2017 है।

28 फरवरी, 2016 भरे हुए एफपीएम आवेदन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि है।

प्रबंधन में फेलो प्रोग्राम (एफपीएम) आरजीभाप्रबंसं शिलाँग का एक डॉक्टरेट स्तर का कार्यक्रम है। कार्यक्रम प्रबंधन अध्ययनों से संबंधित ज्ञान में जिज्ञासा रखने वाले विद्यानों के लिए है। भाप्रबंसं शिलॉंग में एफपीएम को विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त करने की योजना है, और यह प्रबंधन के सभी क्षेत्रों में कठोर और अंतर-अनुशासनात्मक अनुसंधान का प्रमुख स्रोत होगा। यह कार्यक्रम उन लोगों को प्रशिक्षित करने के लिए प्रतिबद्ध है जो अपने संबंधित क्षेत्र में शिक्षकों के रूप में उत्कृष्टता प्राप्त करेंगे और अंतरराष्ट्रीय मानक के गुणवत्ता वाले प्रकाशन के माध्यम से उच्च गुणवत्ता वाले शोध कार्य करेंगे।

एफपीएम कार्यक्रम के बारे में

भाप्रबंसं, शिलाँग के प्रबंधन (एफपीएम) में फैलोशिप प्रोग्राम का विजन

भाप्रबंसं शिलाँग के एफपीएम कार्यक्रम का उद्देश्य समर्पित शोधकर्ताओं और विद्वानों का गठन करना है जो प्रबंधन में महत्वपूर्ण मुद्दों का पता लगाएंगे, नए ढांचे के अवसरों की पहचान करेंगे और नए अंतर्दृष्टि का निर्माण करेंगे। कार्यक्रम प्रबंधन शिक्षा और अभ्यास के सभी क्षेत्रों में उन्नत अंतःविषय अनुसंधान के लिए अवसर प्रदान करता है।

कार्यक्रम की रूपरेखा

प्रतिभागी को एफपीएम कार्यक्रम के लिए चार से पांच वर्ष बिताने होंगे, जिसमें दो साल का कठोर पाठ्यक्रम शामिल है। कोशवर्क का उद्देश्य प्रबंधन क्षेत्र की सैद्धांतिक नींव का निर्माण, प्रबंधन अनुशासन की समझ प्रदान करना, प्रबंधकीय समस्याओं का विश्लेषण करने और शोध हित को विकसित करने के लिए बुनियादी कौशल विकसित करना है। उम्मीद है कि भावी अनुसंधान गतिविधियों के लिए यह मंच प्रदान करने में सक्षम होगा। कोर्स की सफल समाप्ति के बाद प्रतिभागियों का व्यापक परीक्षा के माध्यम से मूल्यांकन किया जाता है और व्यापक परीक्षा के सफलतापूर्वक समापन के बाद डॉक्टरेट अवधि शुरू होती है। तीसरे वर्ष के बाद, डॉक्टरेट शोध प्रबंध कार्य उन्हें प्रबंधन के क्षेत्र में या किसी एक विषय के लिए मूल योगदान देने का अवसर प्रदान करता है।

विशेषज्ञता के क्षेत्रों:

  • अर्थशास्त्र और सार्वजनिक नीति
  • विपणन प्रबंधन
  • वित्त और लेखा
  • सूचना प्रणाली
  • संचालन प्रबंधन और मात्रात्मक तकनीक
  • संगठनात्मक व्यवहार, मानव संसाधन और संचार
  • रणनीति प्रबंधन
  • स्थिरता, कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व और नैतिकता

पात्रता

उम्मीदवारों के पास होना चाहिए:

  • सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए या समकक्ष डिग्री के साथ न्यूनतम 60% अंक, एससी / एसटी उम्मीदवारों के लिए 55% (इंजीनियरिंग छात्रों) या 50% (गैर-इंजीनियरिंग छात्रों) 50% कुल अंक या समकक्ष ग्रेड बिंदु औसत ।
  • सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए स्नातक की डिग्री के साथ ही न्यूनतम 60% अंक, एससी / एसटी उम्मीदवारों के लिए 55% (इंजीनियरिंग छात्रों) या 50% (गैर-इंजीनियरिंग छात्रों) 50% कुल अंक या समकक्ष ग्रेड बिंदु।
  • सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक परीक्षा में न्यूनतम 60% अंक, एससी / एसटी उम्मीदवारों के लिए 50% कुल अंक होना चाहिए ।
  • किसी भी पेशेवर योग्यता जैसे कि सीए, आईसीडब्ल्यूए / आईसीएआई और सीएस वालों के लिए न्यूनतम 55% कुल अंक ।

उपरोक्त योग्यता, भारत में केंद्रीय या राज्य विधानमंडल के अधिनियम या संसद के एक अधिनियम द्वारा स्थापित अन्य शैक्षिक संस्थानों द्वारा निहित विश्वविद्यालयों में से किसी भी यूनिवर्सिटी से होनी चाहिए या मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त यूजीसी अधिनियम, 1956 की धारा 3 के तहत स्थापित विश्वविद्यालय है।

जो उम्मीदवार अपने योग्यता कार्यक्रमों के अंतिम वर्ष में हैं, जो उन्हें पात्र बनाते हैं वे भी आवेदन कर सकते हैं। ऐसे उम्मीदवारों को यदि चयनित किया गया है, तो उन्हें कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति केवल तभी होगी यदि वे जून 30, 2017 को या इससे पहले प्रधानाचार्य / विभाग के प्रमुख / रजिस्ट्रार या विश्वविद्यालय / संस्थान के निदेशक (30 जून को जारी किए गए) द्वारा जारी प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करते हैं। वे मास्टर / बैचलर की डिग्री / समकक्ष योग्यता प्राप्त करने के लिए आवश्यक सभी विषयों में परीक्षाओं (व्यावहारिक परीक्षाओं सहित) के लिए उपस्थित हुए हैं। उनके प्रवेश की पुष्टि तभी होगी जब वे प्राचार्य / अपने कॉलेज के रजिस्ट्रर / संस्थान द्वारा जारी स्नातकोत्तर / स्नातक / समकक्ष डिग्री की मार्कशीट और सर्टिफिकेट जमा करेंगे। मार्कशीट और सर्टिफिकेट जमा करने की अंतिम तिथि 31 दिसंबर, 2017 है। कृपया ध्यान दें कि जिन उम्मीदवारों ने अपने मास्टर डिग्री के आधार पर आवेदन किया है उन्हें आवश्यक अंकों की शर्त को पूरा करना होगा, और जिन्होंने स्नातक की डिग्री के आधार पर आवेदन किया है, उन्हें आवश्यक अंकों की शर्त को पूरा करना होगा। इन शर्तों को अनदेखा करने वालों का दाखिला स्वतः रद्द मानी जाएगी।

टेस्ट स्कोर्स:

उम्मीदवारों को प्रवेश के लिए जीमैट, जीआरई, कैट, गेट, जेआरएफ (नेट) किसी की वैध स्कोर की आवश्यकता होगी। उम्मीदवारों को टेस्ट परीक्षा कि लिए जरूरी स्कोर कार्ड देना अनिवार्य है।

  • क) जीमैट वाले भी आवेदन कर सकते हैं। जीमैट टेस्ट देने वाले आवेदक आवेदन के साथ उनके आधिकारिक जीमैट स्कोर की एक कॉपी अपलोड / जमा कर सकते हैं। जिन आवेदकों को जीएमएसी से आधिकारिक स्कोर कार्ड नहीं मिला है, वे आवेदन के साथ टेस्ट देकर कॉपी अपलोड/ जमा कराए, लेकिन साक्षात्कार से पहले आधिकारिक स्कोर कार्ड जमा करना होगा।
  • ख) जीआरई भी आवेदन कर सकते हैं। आवेदक आवेदन के साथ उनके जीआरई स्कोर की एक प्रति अपलोड / जमा कर सकते हैं। जिन आवेदकों ने ईटीएस से आधिकारिक स्कोर कार्ड नहीं प्राप्त किया है, वे आवेदन के साथ टेस्ट देकर कॉपी अपलोड / जमा कराए, लेकिन साक्षात्कार से पहले आधिकारिक स्कोर कार्ड जमा करें।
  • ग) कॉमन एडमिशन टेस्ट (कैट 2015, 2016) वाले आवेदन कर सकते हैं और ऑनलाइन आवेदन में अपने कैट 2015, 2016 पंजीकरण संख्या को उपलब्ध कर सकते हैं। सीएटी 2015, 2016 भाप्रबंसं शिलाँग के लिए उपलब्ध कराए गए स्कोर आवेदन के मूल्यांकन में उपयोग किए जाएंगे।
  • घ) आवेदक एक वैध गेट स्कोर (गेट 2016 या बाद के संस्करण) के साथ भी आवेदन कर सकते हैं। गेट 2017 के लिए आवेदन करने वाले आवेदक ऑनलाइन आवेदन के साथ प्रवेश पत्र को अपलोड / जमा कर सकते हैं, लेकिन साक्षात्कार से पहले स्कोर कार्ड जमा करें।
  • ङ) जेआरएफ (नेट): जेआरएफ (एनईटी) के लिए योग्यता प्राप्त करने वाले आवेदक भी जेआरएफ (एनईटी) की वैधता के भीतर आवेदन कर सकते हैं, और संबंधित दस्तावेजों को अपलोड / जमा कर सकते हैं।

चयन प्रक्रिया

जिन उम्मीदवारों ने उपरोक्त पात्रता मानदंडों को पूरा किया है और जिन्होंने भाप्रबंसं द्वारा आयोजित 2015 या 2016 के सामान्‍य प्रवेश परीक्षा (सीएटी) में सफलता पाई है।

वैकल्पिक रूप से, 26 फरवरी, 2017 तक वैध गेट, जीआरई, जीमैट और जेआरएफ (यूजीसी / सीएसआईआर) परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले संबंधित क्षेत्र में आवेदन कर सकते हैं। जिन उम्मीदवारों ने पहले से 10 साल के स्केल पर न्यूनतम सीजीपीए 6.0 के साथ भाप्रबंसं में से किसी एक से दो वर्षीय पीजीडीएम डिग्री प्राप्त किया है, उन्हें इन शर्तों से छूट दी गई है और सीधे निर्धारित आवेदन पत्र के माध्यम से वे आवेदन कर सकते हैं। इस तरह के आवेदकों को प्रथम वर्ष के कोर्स काम से भी छूट दी गई है। कार्यक्रम के दूसरे वर्ष में वे सीधे शामिल हो सकते हैं।

उपर्युक्त उल्लेखित प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं में उनके अकादमिक रिकॉर्ड और प्रदर्शन के आधार पर लघु-सूचीबद्ध उम्मीदवारों को मार्च 2017 में अंतिम चयन के लिए व्यक्तिगत साक्षात्कार के लिए शिलाँग बुलाया जाएगा और सफल उम्मीदवारों को अप्रैल 2017 तक प्रस्ताव भेजे जाएंगे।

कार्यक्रम में प्रवेश प्रवाली भारतीय और विदेशी नागरिकों सहित विदेशी उम्मीदवारों के लिए भी कार्यक्रम में दाखिने का मार्ग खुला है। उनके प्रवेश जीमैट / जीआरई स्कोर पर आधारित होंगे, जो 26 फरवरी 2017 तक मान्य होंगे।

आरक्षण

पात्र श्रेणियों में प्रवेश के दौरान भारत सरकार द्वारा डॉक्टरेल प्रोग्राम के लिए निर्धारित आरक्षण नीतियों का पालन किया जाएगा।

कार्यक्रम की अवधि और आवास

छात्रों को कार्यक्रम पूरा करने में चार साल लगेंगे। हालांकि, विशेष परिस्थितियों में प्राधिकृत अधिकारी एक वर्ष और समय दे सकते है। पांचवें वर्ष के लिए कोई वित्तीय सहायता प्रदान नहीं की जाएगी। फैलोशिप छात्र पाठ्यक्रम के काम के लिए अपने पहले दो साल और शोध तथा थीसिस तैयारी के लिए अगले दो साल प्रयोग करेंगे। एफपीएम एक पूर्णकालिक आवासी कार्यक्रम है।

सभी एफपीएम छात्रों के लिए हॉस्टल की सुविधा उपलब्ध है, हालांकि, पारिवारिक आवास उपलब्ध नहीं है।

वित्तीय सहायता

फैलोशिप कार्यक्रम के लिए चुने गए उम्मीदवारों को एक वित्तीय सहायता दी गई है, जो उनकी शोध आवश्यकताओं और मामूली जीवन शैली को कवर करती है।

  • इस कार्यक्रम में भर्ती सभी छात्रों को फैलोशिप और आकस्मिकता भत्ता चार साल तक दिया जाता है। छात्रों को 1 वर्ष तक प्रति माह 20,000 रूपए की फैलोशिप राशि प्रदान की जाती है; इसी तरह क्रमशः दूसरे और तीसरे वर्ष प्रति माह 25,000 रुपए और चौथे वर्ष में 30,000 प्रति माह दी जाएगी। ये राशि परीक्षा की मंजूरी और शोध प्रक्रिया प्रस्तुत करने के लिए दी जाएगी।
  • जिन लोगों को प्रथम वर्ष के कोर्स से छूट दी गई है और कार्यक्रम के दूसरे वर्ष में सीधे दाखिला लिए, वे केवल तीन साल तक फेलोशिप राशि प्राप्त करने के योग्य होंगे।
  • सभी एफपीएम छात्रों को आकस्मिकता अनुदान का एक व्यापक पैकेज प्रदान किया जाएगा। पैकेज में निम्नलिखित हैं
    • कंप्यूटर अनुदान
    • राष्ट्रीय / अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन अनुदान
    • फील्डवर्क के लिए सहायता
    • थीसिस की तैयारी

व्यय

छात्रों को निम्नलिखित खर्चों का भुगतान करना होगा:

  • प्रतिभूति जमा (वापसी योग्य): रु. 10,000/- *
  • मैस शुल्क: वास्तविकता के अनुसार।

* इस पंजीकरण के दौरान केवल एक ही बार में शुल्क भुगतान करना है।

आवेदन कैसे करे

अभ्यर्थी, जो अपने कई अन्य परीक्षाएं जैसे गेट, जीआरई, जीमैट, और यूजीसी / सीएसआईआर के जेआरएफ को नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके भाप्रबंसं शिलोंग एफपीएम आवेदन पत्र को डाउनलोड कर सकते है।

एक उम्मीदवार अधिकतम दो क्षेत्रों में आवेदन जमा कर सकते है। आवेदन-पत्र भरने की प्रक्रिया को दो भागों में बांटा गया है।

1. आवेदन पत्र (नीचे दिए गए लिंक से डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध) को भर कर और उसे ऑनलाइन जमा कराए। प्र-पत्र केवल एक्रोबेट रीडर का उपयोग करके खोले और स्क्रीन के शीर्ष दाईं ओर उपलब्ध "फॉर्म भेजें" बटन पर क्लिक करके फॉर्म जमा करें। (एडोब रीडर डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)। ऑनलाइन जमा फार्म पर कोई तस्वीर संलग्न नहीं की जा सकती है, फ़ॉर्म को भरने के निर्देश के लिए यहां क्लिक करें ।

उम्मीदवारों से अनुरोध है कि वे फॉर्म भरते समय सावधानी बरतें और इसे जमा करने से पहले ही जांच करें। यदि किसी उम्मीदवार ने एक से अधिक बार फॉर्म जमा किए हैं, तो पहले खर्च पर ही विचार किया जाएगा।

2. उम्मीदवार को फॉर्म जमा करने से पहले ऑनलाइन फॉर्म के प्रिंट ले। यदि उम्मीदवार दो क्षेत्रों के लिए आवेदन कर रहे है, तो दो प्रतियों को प्रिंट करें। ऑनलाइन आवेदन पत्र की मुद्रित प्रतिलिपि (आईएस), प्रत्येक क्षेत्र के लिए एक, एक हालिया तस्वीर के साथ (सेल्फ एटेस्टेट मार्कशीट की प्रतियां और 10वीं से शुरू होने वाली सभी सार्वजनिक परीक्षाओं के प्रमाण-पत्र, अनुभव प्रमाण पत्र, प्रासंगिक स्कोर कार्ड, उम्र प्रमाण, इत्यादि) प्रत्येक फॉर्म के साथ अलग से लगाकर एक लिफाफे में डिमांड ड्राफ्ट 1000/- रुपए (आवेदन शुल्क एससी / एसटी उम्मीदवारों के लिए लागू नहीं है) के साथ आरजीभाप्रबंसं के पक्ष में शिलाँग में देय के रूप में शिलोंग को निम्नलिखित पते पर भेजे।

फैलोशिप कार्यक्रम कार्यालय

राजीव गांधी भारतीय प्रबंधन संस्धान, शिलाँग

मयूरभंज कॉम्प्लेक्स, नोंगथिममाई, शिलाँग -793014

फोन: 0364-230 8039

ई-मेल: fpm@iimshillong.ac.in

ऑनलाइन प्रति और उसके साथ ही आवेदन पत्र की मुद्रित प्रतिलिपि आवश्यक दस्तावेजों के साथ अंतिम तिथि, 28 फरवरी, 2017 तक पहुंचनी चाहिए। संस्थान ईमेल और डाक के विलंब से पहुंचने जैसी किसी भी संबंधित समस्याओं के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने पिछले दो सालों में आवेदन किया है, लेकिन प्रवेश पत्र नहीं मिला, उन्हें फिर से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।

आवेदन फार्म डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। फ़ॉर्म भरने से पहले कृपया इस पृष्ठ के साथ ही फॉर्म में दिए गए
निर्देशों को पढ़ें।

महत्वपूर्ण तिथियाँ

  • भाप्रबंसं शिलाँग वेबसाईट से एफपीएम आवेदन पत्र डाउनलोड करने की तारीख 16 जनवरी 2017 है।
  • भरे हुए एफपीएम आवेदन फॉर्म प्राप्त करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी, 2016 है।
downward